जम्मू कश्मर न्यूज़ आज तक

साहिबगंज : कोरोना वायरस लगातार अपना पांव पसरता जा रहा है। सभी लोग डरे-सहमे हैं। सभी लोग सावधानी बरत रहे हैं। बचाव के लिए तरह तरह की बंदिशें लगाई जा रही हैं। कोरोना वायरस से बचाव अभियान में सफाईकर्मी भी बढ़-चढ़ कर शामिल हो रहे हैं। कुलीपाड़ा निवासी सफाई कर्मी राजेश हरी इन योद्धाओं में एक है। राजेश हरी रोजाना की तरह मंगलवार की सुबह सफाई कार्य के लिए कार्यालय के लिए निकल रहा था तभी उसकी मां सुशीला देवी कहती है-बेटा तुम कहां जा रहे हो। देखो घर से नहीं निकलो। कोरोना वायरस को लेकर शहर में हाहाकार मचा है। कोई घर से नहीं निकल रहा है। तुम भी अपने घर में ही रहो। इसपर राजेश अपनी मां को समझाते हुए कहता है कि मां कारेाना वायरस से डरना नहीं है, लड़ना है। इसी लड़ाई को लड़ने के लिए मैं जा रहा हूं। हम सफाई कर कोरोना वायरस को हरा कर रहेंगे। आज देश के लोग कठिन दौर से गुजर रहे हैं। देश को हमारी जरूरत है। आज हम पैसे कमाने के लिए नहीं बल्कि देश के लोगों की सेवा करने के लिए काम पर जा रहे हैं। तुम देखना हम सभी मिलकर कोराना को हरा कर दम लेंगे। इसके बाद राजेश की मां कहती है। बेटा तुम जाओ। बढि़या से काम करो पर बाहर निकल रहे हो तो सावधानी रखना। मॉस्क व दास्ताना लगा कर काम करना। लोगों से दूरी बना कर रखना। बढि़या से हाथ धोने के बाद ही कुछ पाना-पीना। इसके बाद राजेश अपने काम के लिए निकल पड़ता है। राजेश ट्रैक्टर में सवार होकर अपनी टीम के लोगों के साथ शहर की सफाई में लग जाते है।
नईदिल्ली:हाथरसमेंगैंगरेपपीड़िताकोइंसाफदिलानेकेलिएएबीपीन्यूज़कीमुहीमजारीहै.एबीपीन्यूज़कीप्रशासनसेसिर्फअनुरोधहैकिपीड़ितपरि
हाथरस:हाथरसगैंगरेपमामलेमेंएबीपीन्यूज़कीमुहिमकाबड़ाअसरहुआहै.हाथरसकेएसपीविक्रांतवीरसिंह,क्षेत्राधिकारी(CO)रामशब्द,इंस्पेक्